हरियाणा के 23000 नंबरदारों के लिए बहुत अच्छी खबर है , Number-Holders Will Be Covered Under Ayushman Bharat Scheme

आयुष्मान भारत नंबरदार योजना : दोस्तों हरियाणा सरकार ने फिर से राज्य के 23000 से ज्यादा नंबरदारों को  मुफ्त में स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के लिए योजना शुरू कर दी है| दोस्तों इसके अतिरिक्त सरकार इन नंबरदारों को स्मार्टफोन भी प्रदान करेगी हरियाणा की  23 हजार से भी ज्यादा नंबरदार आयुष्मान भारत योजना में आएंगे।आयुष्मान भारत योजना के तहत नंबरदारों को कवर करने का मुख्य उद्देश्य लोगों को गंभीर बीमारियां होने पर उन्हें आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत इलाज मुहैया कराना है इसके साथ ही  नंबरदारों को स्मार्ट फोन भी देने का  वादा किया है|

दोस्तों  हरियाणा राज्य के Finance Commissioner and Revenue and Disaster Management Department  के अतिरिक्त Chief Secretary श्री संजीव कौशल जी ने राज्य के उपायुक्तों के साथ स्वामित्व तथा अन्य योजनाओं से संबंधित एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से लोगों को यह जानकारी दी कि 23000 से अधिक नंबरदारों को  आयुष्मान भारत नंबरदार योजना में सम्मिलित किया जाएगा और उन्हें बेहतर इलाज मुहैया कराने के साथ स्मार्टफोन भी दिए जाएंगे । दोस्तों मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल जी ने बताया कि हरियाणा में वर्तमान समय  में 23375 नंबरदारों के स्वीकृत पद है।

आयुष्मान भारत नंबरदार योजना

Ayushman Bharat Yojana के मुख्य तथ्य

Ayushman Bharat Yojana के तहत भारत में इस योजना के अंतर्गत भारत में Public and Private Listed Hospitals में माध्यमिक और तृतीयक स्वास्थ्य उपचार के हेतु  प्रत्येक परिवार को प्रत्येक वर्ष ₹500000 की  धनराशि  उपलब्ध  कराती है। इस योजना के तहत सेवा संस्थान अर्थात हॉस्पिटल में लाभार्थी व्यक्ति को स्वास्थ्य सेवाएं निशुल्क में दी जाती  है। इस योजना चिकित्सा उपचार से उत्पन्न होने वाले अधिक खर्चे को कम करने में सहायता प्रदान करती है।

आयुष्मान भारत नंबरदार योजना के अंतर्गत व्यक्ति के अस्पताल में एडमिट होने से 3 दिन पहले और एडमिट होने के 15 दिन बाद तक उस व्यक्ति का उपचार और दवाइयां निशुल्क उपलब्ध कराई जाती  हैं। संजीव कौशल जी ने बताया कि  ऐसे व्यक्तियों को स्मार्टफोन देने के लिए स्मार्ट फोन के लिए टेंडर कॉल कर किए गए हैं और अगले महीने में ऐसे व्यक्तियों को स्मार्टफोन उपलब्ध करवा दिए जाएंगे। सर्वे ऑफ इंडिया के ऑफिसर्स बताया है कि आयुष्मान भारत नंबरदार योजना के अंतर्गत वह  जल्दी ही यमुनानगर से लेकर पलवल तक मसावी अर्थात राजस्व नक्शे में सीमांकन (डिमार्केशन) का कार्य पूरा कराया जाएगा जिससे राज्य की दोनों सीमाओं में कोई समस्या या विवाद न हो।

आयुष्मान भारत नंबरदार योजना का कार्यान्वयन

  • दोस्तों करनाल जिले की सीमा उत्तर प्रदेश की सीमा से गुजरती है ,
  • इसलिए सर्वे ऑफ इंडिया द्वारा सर्वे किया गया है और सर्वे की रिपोर्ट के अनुसार यहां 39 पिलर लगाए जाएंगे।
  • हरियाणा राज्य के फरीदाबाद, पलवल, पानीपत, सोनीपत जैसे-
  • जिलों में सीमावर्ती क्षेत्र में सर्वे ऑफ इंडिया के द्वारा रिपोर्ट तैयार की गई है|
  • रिपोर्ट तैयार होने के पश्चात ऐसे ही पिलर लगाने का कार्य किया जाएगा ।
  • संजीव कौशल जी ने बताया कि इस योजना के अंतर्गत 8 जिलों में ड्रोन मैपिंग का कार्य किया गया था
  • और यह कार्य अब पूरा हो चुका है। 
  • दोस्तों  इस योजना के अतिरिक्त महामारी के विषय पर चर्चा करते हुए संजीव कौशल जी ने बताया कि –
  • इस कठिन परिस्थिति में हरियाणा की राज्य सरकार के अधिकारी व
  • कर्मचारी आपस में बेहतर सामंजस्य स्थापित करके कार्य कर रहे हैं| 
  • हमें पूरी आशा है कि आने वाले एक दो हफ्तों में इस महामारी का प्रकोप राज्य भर में कम होगा| 
  • उन्होंने यह भी बताया कि हरियाणा की सरकार के माध्यम से,
  • गांवों में आइसोलेशन वार्ड  तैयार करवाने के लिए ऑफिसर की टीमों का गठन किया गया है|
  • इनके माध्यम से आइसोलेशन वार्ड स्थापित किए जाएंगे जिससे कि इस महामारी पर रोक लग सकेगी ।

Quick Links :

Leave a Comment