राष्ट्रीय-डिजिटल-स्वास्थ्य-मिशन

राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन | PM Modi Health ID Card योजना, ऑनलाइन आवेदन, रजिस्ट्रेशन फॉर्म 2020

राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन | PM Modi Health | National Digital Health Mission | डिजिटल स्वास्थ्य मिशन | PM Modi health ID Card yojana in hindi |

नमस्कार दोस्तों इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन के बारे में बताएंगे | जो कि सरकार ने 15 अगस्त 2020 को घोषित किया है। इस मिशन से संबंधित संपूर्ण जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में देंगे | जैसे कि आप किस तरह अपना मेडिकल स्वास्थ्य मिशन कार्ड बनवा सकते हैं |

इसके क्या उद्देश्य हैं इत्यादि सभी जानकारी आपको दी जाएगी इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन

राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन से संबंधित बुनियादी जानकारी निम्नलिखित है:-

भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने मिशन की घोषणा 15 अगस्त 2020 को स्वतंत्रता दिवस पर की।
राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत सरकार देशवासियों की medical जानकारी ऑनलाइन दर्ज करेगी ।
इस मिशन के तहत नागरिकों का मेडिकल ऑनलाइन दर्ज होने के साथ-साथ उनके लिए स्वास्थ्य कार्ड भी बनाया जाएगा।

  • व्यक्ति का नाम, पता, बीमारी, दवा, हॉस्पिटल में एडमिशन, एवं डॉक्टर से जुड़ी सारी जानकारी इस स्वास्थ्य कार्ड में होगा।
  • मरीज़ की सारी जानकारी इलेक्ट्रॉनिक रूप से आवंटित विशेष पहचान नंबर के माध्यम से रखी जाएगी।
  • सरकार का कहना है कि यह योजना नागरिकों के लिए बहुत लाभदायक साबित होगी।
  • नागरिकों को एक हेल्थ आईडी नंबर होगा जिसको दर्ज करके डॉक्टर उनकी जानकारी या मेडिकल जानकारी आसानी से देख पाएगा।

हेल्थ आईडी कार्ड किसके द्वारा बनवाया जाएगा आप निम्नलिखित देख सकते हैं:-

हमने आपको ऊपर आईडी कार्ड से संबंधित जानकारी प्रदान की। यह हेल्थ आईडी कार्ड NHA द्वारा बनाया जाएगा।
डिजिटल स्वास्थ्य मिशन की पूरी निगरानी सरकार द्वारा रखी जाएगी यह NHA के चीफ एग्जीक्यूटिव इंदु भूषण ने बताया है।

  • हेल्थ आईडी और डॉक्टरों का आवंटन सरकार द्वारा किया जाएगा।
  • निजी अस्पताल एवं चिकित्सा संस्थान पर्सनल हेल्थ रिकॉर्ड और इलेक्ट्रॉनिक मेडिकल रिकॉर्ड सरकारी निर्देश के अनुसार तैयार कर सकते हैं।

निजी स्वास्थ्य केंद्रों के लिए सूचना:-

  • सरकार की ओर से निजी स्वास्थ्य संस्थानों को छूट दी गई है, वे पर्सनल कार्ड बनाना चाहते हैं तो वह बना सकते हैं |

नागरिकों के लिए सूचना:-

नागरिकों को इस आईडी कार्ड को बनाने के लिए कोई बाध्यता नहीं है। जो बनवाना चाहते हैं बे बनवा सकते हैं और जो नहीं बनवाना चाहते यह उनकी मर्जी है। Health ID card बनवाना पूरी तरीके से नागरिक पर निर्भर करता है।
जो लोग इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उनको अपने आधार कार्ड को इस हेल्थ आईडी कार्ड से जोड़ना होगा ।
इस card से लाभार्थी अपनी मेडिकल जानकारी अपने चिकित्सक के साथ साझा आसानी से कर सकता है।
इसकी निगरानी सरकार द्वारा रखी जाएगी और नागरिक की गोपनीयता का ख्याल सरकार द्वारा रखा जाएगा।

यह कार्ड किस प्रकार बनाया जाएगा ?

  • इस card को व्यक्ति के आधार कार्ड से लिंक कराया जाएगा ताकि वह उसका फायदा उठा सकें।
  • मिशन में हर व्यक्ति को एक यूनीक आईडी प्रदान की जाएगी | व्यक्ति अपनी मेडिकल जानकारी चिकित्सक से साझा कर सके |
  • स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन के मुताबिक यह योजना चंडीगढ़, लद्दाख, दादर-नगर हवेली, दमन एंड दीव, पुडुचेरी, अंडमान-निकोबार और लक्षद्वीप में लागू हो गई है।

और देखे

Delhi Rozgar Bazaar Portal

Leave a Comment